ads

एक साल में 78 फीसदी उछला बीपीसीएल का शेयर, सरकार कर रही है बेचने की तैयारी

नई दिल्ली। एक साल में किसी सरकारी कंपनी के शेयर में इतनी तेजी देखने को मिली होगी, जितनी तेजी भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड में देखने को मिली है। खास बात तो ये है कि कंपनी को मार्च तिमाही में करीब 11 फीसदी का इजाफा हुआ है। जबकि पूरे वित्त वर्ष में 19 हजार करोड़ का शुद्घ लाभ हुआ है। जिसकी वजह से कंपनी के शेयरों में बीते एक साल में 78 फीसदी का उछाल देखने को मिल चुका है। कंपनी के शेयरों में आज भी तेजी देखने को मिल रही है। जिसकी वजह से कंपनी का शेयर 52 हफ्तों की उंचाई पर पहुंच गया है। वहीं दूसरी ओर भारत सरकार को भरपूर मुनाफा देने वाल कंपनी का प्राइवेटाइजेशन होने जा रहा है। सरकार अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचने जा रही है।

यह भी पढ़ेंः- जेफ बेजोस 62 हजार करोड़ रुपए में खरीद रहे हैं 97 साल पुरानी कंपनी

कंपनी को 7 गुना का मुनाफा
- कंपनी को वित्त वर्ष 2020-21 में एकल आधार पर 19,041.67 करोड़ रुपए शुद्ध लाभ हुआ।
- इसका कारण हिस्सेदारी बिक्री के साथ बचे माल भंडार की वजह से रिफाइनिंग मार्जिन बेहतर रहना है।
- वित्त वर्ष 2019-20 में कंपनी का लाभ 2,683.19 करोड़ रुपए रहा था।
- वित्त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 11,940.13 करोड़ रुपए।
- एक साल पहले 2019-20 की इसी तिमाही में 2,777.62 करोड़ रुपए था।
- कंपनी बोर्ड ने 2020-21 के लिए प्रति इक्विटी 58 रुपए अंतिम डिविडेंड देने की सिफारिश की है।
- इसमें 10 रुपए के शेयर पर एक बार में 35 रुपए का विशेष लाभांश शामिल है।
- यह लाभांश कुल 12,581.66 करोड़ रुपए बैठ रहा है।
- इसमें 7,592.38 करोड़ रुपए का विशेष लाभांश शामिल है।
- सरकार को इसमें से 6,665.76 करोड़ रुपये के साथ लाभांश वितरण कर भी मिलेगा।

यह भी पढ़ेंः- अमेजन के 27वें बर्थडे पर जेफ बेजोस देंगे इस्तीफा, जानिए उसके बाद क्या होगी उनकी भूमिका

एक साल में शेयरों में 78 फीसदी का उछाल
जहां कंपनी का प्रदर्शन सेल और प्रोफिट में जबरदस्त रहा। वहीं दूसरी ओर कंपनी का प्रदर्शन शेयर बाजार में भी जोरदार देखने को मिला है। बीते 1 साल में कंपनी का शेयर प्राइस में 78 फीसदी की तेजी देखने को मिली है। 27 मई को का शेयर 313 रुपए के साथ 52 हफ्तों के निचले स्तर पर है। जो आज कारोबारी सत्र के दौरान 488 रुपए पर पहुंचा, जोकि 52 हफ्तों का सबसे उंचा स्तर भी है। बीते एक महीने में कंपनी के शेयरों में 15 फीसदी की तेजी देखने को मिल चुकी है और मौजूदा समय में कंपनी का शेयर 5 फीसदी से ज्यादा की तेजी देख चुका है। मौजूदा समय में कंपनी का शेयर 472 रुपए पर कारोबार कर रहा है।

यह भी पढ़ेंः- सरकार आम लोगों को देने जा रही है बड़ी राहत, मास्क से लेकर हैंड सैनीटाइजर की कीमत होगी कम

कंपनी के मार्केट कैप में रोज 104 करोड़ रुपए का इजाफा
कंपनी के शेयर में इजाफा होने के साथ कंपनी के मार्केट में भी बढ़ोतरी देखने को मिली है। 27 मई को कंपनी का मार्केट कैप 67896.17 करोड़ रुपए था, जो आज कारोबारी सत्र के दौरान 1,05,860 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। यानी इस दौरान कंपनी के मार्केट में 38 हजार करोड़ रुपए की देखने को मिली। इसका मतलब ये है कि कंपनी के मार्केट कैप में हर रोज 104 करोड़ रुपए का फायदा हुआ है।

यह भी पढ़ेंः- Petrol Diesel Price Today : महानगर मुंबई में 100 रुपए के करीब पहुंचा पेट्रोल, जानिए दिल्ली, कोलकाता में कितने हुए दाम

सरकार बेचने जा रही है हिस्सेदारी
इतना जबरदस्त परफॉर्म करने के बाद भी सरकार बीपीसीएल से अपनी पूरी करीब 53 फीसदी हिस्सेदारी बेचने जा रही है। सरकार ने इस वित्त वर्ष में बीपीसीएल के निजीकरण का लक्ष्य रखा है। इसे देश में अब तक का सबसे बड़ा विनिवेश माना जा रहा है। मुख्य आर्थिक सलाहकार (सीईए) कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम ने हाल ही में कहा था कि बीपीसीएल विनिवेश से 80 हजार करोड़ रुपए का राजस्व हासिल हो सकता है। सरकार ने कंपनी के निजीकरण के लिए प्रक्रिया शुरू की हुई है।



Source एक साल में 78 फीसदी उछला बीपीसीएल का शेयर, सरकार कर रही है बेचने की तैयारी
https://ift.tt/3hWGd41

Post a Comment

0 Comments