ads

होली से पहले बाजार में कोहराम, दो दिन में 7 लाख करोड़ का हुआ नुकसान

नई दिल्ली। होली से शेयर बाजार पर लाल रंग पूरी तरह से छा गया है। दो दिनों में शेयर बाजार 1500 से ज्यादा अंकों की गिरावट देख चुका है। जिसकी वजह से निवेशकों को इन दो दिनों में करीब 7 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। जानकारों की मानें 31 मार्च को क्लोजिंग है और निवेशक अपना रुपया निकालने का मन बना चुके हैं। वहीं दूसरा कारण है कोरोना वायरस। जिसकी वजह से युरोप में लॉकडाउन लगाया जा चुका है। वहीं भारत में भी कुछ शहरों में लॉकडाउन लग चुका है। ऐसे में निवेशकों को डर सता रहा है। जिसकी वजह से वो जमकर मुनाफावसूली कर रहे हैं। वैसे आज सेंसेक्स 740 अंक और निफ्टी 225 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुए हैं।

यह भी पढ़ेंः- कोरोना के कहर के कारण होली से पहले बाजार ने गंवाए 15 लाख करोड़ रुपए, जानिए कैसे

करीब 40 दिन के निचले स्तर आया बाजार
आज शेयर बाजार में लगातार दूसरे दिन गिरावट देखने को मिली। बांबे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 740.19 अंकों की गिरावट के साथ 48,440.12 अंकों पर बंद हुआ। जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 224.50 अंकों की गिरावट के साथ 14,324.90 अंकों पर बंद हो गया। जानकारों की मानें वाले दिनों में शेयर बाजार में गिरावट जारी रह सकती है। बीएसई स्मॉल कैप 378.86, बीएसई मिड-कैप 446.64 और विदेशी निवेशकों का इंडेक्स सीएनएक्स मिडकैप 476.50 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ है। जबकि सेक्टोरल इंडेक्स में कंज्यूमर ड्यूरेबल्स सेक्टर और ऑटो सेक्टर में सबसे ज्यादा गिरावट देखने को मिली है।

यह भी पढ़ेंः- Petrol Diesel Price Today : लगातार दूसरे दिन पेट्रोल और डीजल हुआ सस्ता, फटाफट जानिए नए रेट्स

निवेशकों को 7 लाख करोड़ का नुकसान
वहीं बात बाजार निवेशकों की करें तो दो दिनों में भारी नुकसान उठाना पड़ा है। बाजार निवेशकों का नुकसान और फायदा बीएसई के मार्केट कैप से जुड़ा हुआ होता है। मंगलवार को बाजार बंद होने के बाद बीएसई का मार्केट कैप 2,05,76,061.90 करोड़ रुपए था। जबकि आज बाजार बंद होने के बाद मार्केट कैप 1,98,92,302.79 करोड़ पर आ गया। यानी इस दौरान बीएसई का मार्केट कैप 683759.11 करोड़ रुपए कम हो गया है। यही बाजार निवेशकों का नुकसान है।

यह भी पढ़ेंः- ICICI Bank-Videocon Case : चंदा कोचर के पति को राहत, बांबे हाईकोर्ट से मिली जमानत

क्या कहते हैं जानकार?
वहीं शेयर बाजार एक्सपर्ट रजनीश खोसला बताते हैं कि बाजार में अप्रैल महीने तक गिरावट का माहौल जारी रहेगा। वैसे निफ्टी 13,600 अंकों से नीचे जाने वाला है। 13700 और 13800 अंकों का निचला स्तर ही रहेगा। उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में कोरोना वायरस ज्यादा तकनीकी कारणों के कारण बाजार में गिरावट ज्यादा है। पीई रेश्यो बढ़ा हुआ है। बांड बाजार के आंकड़े तेज हैं। जिसकी वजह से बाजार में मुनाफावसूली देखने को मिल रही है।



Source होली से पहले बाजार में कोहराम, दो दिन में 7 लाख करोड़ का हुआ नुकसान
https://ift.tt/3lMUjVN

Post a Comment

0 Comments