ads

2021 में भारत में विज्ञापन खर्च 23 प्रतिशत बढ़ेगा

मुंबई। देश में मीडिया मंच पर वर्ष 2021 में विज्ञापनों पर होने वाला खर्च 23.2 प्रतिशत बढ़कर 80,123 करोड़ रुपए होने की उम्मीद है, जबकि कोरोना महामारी से प्रभावित 2020 में विज्ञापनों पर खर्च में 21.5 प्रतिशत की भारी गिरावट हुई थी। मीडिया एजेंसी ग्रुप एम की टीवाईएनवाई रिपोर्ट में 2021 के लिए यह अनुमान जताया है। इन अनुमानों को 'आशावादी नहीं, बल्कि यथार्थवादी' करार देते हुए ग्रुप एम दक्षिण एशिया के सीईओ प्रशांत कुमार ने बताया कि यह अभी भी वर्ष 2019 में हासिल किए गए लगभग 83,000 करोड़ रुपए खर्च की तुलना में काफी कम होंगे। महामारी की घोषणा से हफ्तों पहले, एजेंसी ने वर्ष 2020 के लिए विज्ञापनों का खर्च 10.7 प्रतिशत बढ़कर 91,641 करोड़ रुपए होने का अनुमान लगाया था।

एजेंसी ने कहा कि रैंकिंग में भारत का स्थान एक पायदान खिसक दसवें नंबर पर आ गया और 2021 में यह नौवें स्थान पर वापस आ सकता है। वैश्विक अनुभव के विपरीत, जहां डिजिटल बहुत तेजी से जमीन हासिल कर रहा है, भारत में टीवी-विज्ञापन पर खर्च बढ़ेगा और प्रिंट मीडिया भी 2021 में कुल विज्ञापन राजस्व में अपना 16 प्रतिशत हिस्सा बनाए रखेगा। एजेंसी के अनुमान के अनुसार वर्ष 2021 में वैश्विक विज्ञापन खर्च में 10 प्रतिशत की वृद्धि होने का अनुमान है।

वित्त वर्ष 2021-22 में 13.5 प्रतिशत हो सकती है वृद्धि-
नई दिल्ली. जापान की वित्तीय सेवा कंपनी नोमुरा ने कहा है कि भारत में आर्थिक गतिविधियां सामान्य होने की कगार पर हैं और वित्त वर्ष 2021-22 में आर्थिक वृद्धि दर 13.5 फीसदी रहेगी। भारतीय अर्थव्यवस्था कोविड महामारी और इससे निपटने के लिए आवागमन पर सार्वजनिक पाबंदियों से बुरी तरह प्रभावित होकर अब सुधार की राह पर है। नोमुरा का आर्थिक गतिविधियों का संकेतक सूचकांक 14 फरवरी को सुधर कर 98.1 अंक पर पहुंच गया। एक सप्ताह पूर्व यह सूचकांक 95.9 अंक पर था। चालू वित्त वर्ष में महामारी के असर के कारण भारत के सकल घरेलू उत्पाद जीडीपी में 7.7 फीसदी का संकुचन होने का अनुमान है।



Source 2021 में भारत में विज्ञापन खर्च 23 प्रतिशत बढ़ेगा
https://ift.tt/3bkHM7g

Post a Comment

0 Comments