ads

शेयर मार्केट हिस्ट्री के सबसे तेज 27 दिन, सेंसेक्स में 6533 अंकों की तेजी

नई दिल्ली। आज शेयर बाजार पहली बार 46 अंकों को पार कर गया। गर बात नवंबर से लेकर आज तक के आंकड़ों को देखें तो इन 27 कारोबारी सत्र में सेंसेक्स ने 6500 से ज्यादा अंकों की तेजी दिखाई है। जानकारों के अनुसार एक महीने से भी कम समय में 6000 से ज्यादा अंकों की तेजी इतिहास में पहली बार बार दिखाई दी है। वहीं बात निफ्टी करें तो इन कारोबारी सत्रों में 1500 से ज्यादा की बढ़त देखने को मिल चुकी है। अगर बात 27 कारोबारी दिनों की करें तो इस दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज को छोड़कर सभी टॉप कंपनियों ने मुनाफा कमाया है। रिलायंस के मार्केट कैप में एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान है। जबकि बीएसई के मार्केट कैप को 16,63,89,315.32 करोड़ रुपए का फायदा हुआ है।

सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त
शेयर बाजार में आज की तेजी की बात करें तो बांबे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 513.31 अंकों की तेजी के साथ 46,121.81 अंकों पर बंद हुआ है। जबकि आज सेंसेक्स 46164.10 अंकों के साथ रिकॉर्ड अंकों पर पहुंचा। सेंसेक्स को 45 हजार से 46 अंकों को क्रॉस करने में मात्र तीन ही कारोबारी सत्र लगे। जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 398 अंकों की बढ़त के साथ 13,531.85 अंकों पर बंद हुआ। निफ्टी को 13 हजार से 13500 अंकों को पार करने में 10 कारोबारी दिनों का वक्त लग गया। जानकारों की मानें तो जल्द ही निफ्टी 14 हजार अंकों को पार करता हुआ दिखाई दे सकता है।

यह भी पढ़ेंः- शानदार तेजी के साथ खुले बाजार, सेंसेक्स 46 हजार अंकों की ओर

नवंबर से अब तक सेंसेक्स का हाल
- तीन कारोबरी सत्र में 45 से 46 हजार अंकों पर पहुंचा सेंसेक्स।
- 12 कारोबारी सत्र में 44 से 45 हजार अंकों पर पहुंचा।
- 43 से 44 हजार अंकों पर पहुंचने में सेंसेक्स को लगे चार कारोबारी सत्र।
- 5 कारोबारी सत्र में 40 से 43 हजार अंकों पर पहुंचा सेंसेक्स।
- तीन कारोबरी सत्र में 39 से 40 हजार अंकों पर पहुंचा सेंसेक्स।

निफ्टी 50 में देखने को मिली इस तरह की तेजी
- 12 हजार से 13 हजार अंकों तक पहुंचने में लगे 24 दिन।
- 13 हजार से 13500 अंकों तक पहुंचने में लगे 10 दिन।
- 13 हजार से 13250 अंकों तक पहुंचने में लगे 7 दिन।
- 13250 से 13500 अंकों तक पहुंचने में लगे 3 दिन।
- 11 हजार अंकों से 12 हजार अंकों तक पहुंचने में लगे 77 दिन।

यह भी पढ़ेंः- वैक्सीन के असर से सोना और चांदी हुआ सस्ता, जानिए कितने घटे दाम

27 कारोबारी दिनों में बीएसई की टॉप 10 कंपनियों का हाल

कंपनी का नाम 30 अक्टूबर को एमकैप ( करोड़ रुपए में ) 9 दिसंबर को एमकैप ( करोड़ रुपए में ) अंतर ( करोड़ रुपए में )
रिलायंस इंडस्ट्रीज 13,89,159.20 12,84,782.75 - 1,04,376.45
टीसीएस 9,99,954.24 10,54,345.05 54,390.81
एचडीएफसी बैंक 6,51,518.11 7,74,146.03 1,22,627.92
हिंदुस्तान यूनिलीवर 4,86,898.54 5,38,424.31 51,525.77
इंफोसिस 4,51,753.23 5,00,555.03 48,801.8
एचडीएफसी 3,45,287.89 4,14,818.73 69,530.84
आईसीआईसीआई बैंक 2,70,736.06 3,52,817.32 82,081.26
कोटक महिंद्रा बैंक 3,06,331.09 3,72,744.04 66,412.95
भारती एयरटेल 2,36,552.97 2,74,414.53 37,861.56
बजाज फाइनेंस 1,99,551.54 2,91,833.05 92,281.51
बीएसई 1,57,92,249.91 1,82,81,565.23 16,63,89,315.32

क्या कहते हैं जानकार
ट्रेड स्विफ्ट के निदेशक संदीप जैन के अनुसार शेयर बाजार में अभूतपूर्वतेजी देखने को मिली है। 2008 में भी जब मंदी देखने को मिली थी और बाजार में गिरावट आई थी तो इतनी रिकवरी तीन से चार महीनों कर वक्त लग गया था। जबकि इस बार इतनी रिकवरी सिर्फ एक महीने से कम कारोबारी सत्रों में हासिल की है। वहीं दूसरी ओर बाजार के जानकार अनुज गुप्ता के अनुसार सिर्फ 27 कारोबारी सत्रों में 6500 अंकों की बाजार में कभी देखने को नहीं मिली है। आने वाले दिनों में इसमें और इजाफा देखने को मिल सकता है।



Source शेयर मार्केट हिस्ट्री के सबसे तेज 27 दिन, सेंसेक्स में 6533 अंकों की तेजी
https://ift.tt/39Z2471

Post a Comment

0 Comments